फाइनेंस बिजनेस

Loan Rules 2024 : RBI का फरमान, लोन लेने वालों वालो के लिए बहुत अच्छी खबर ! इस डेट से लागू नियम

Loan Rules

Loan Rules : RBI का फरमान, लोन लेने वालों वालो के लिए बहुत अच्छी खबर ! इस डेट से लागू नियम , अगर आप भी लोन लेने की सोच रहे हैं तो आपकी अच्छी खबर है। आरबीआई ने बैंको को फरमान जारी किया है जो कि लोन लेने वालों के लिए अच्छी खबर है। पूरी जानकारी हमने आपको नीचे उपलब्ध करवाई है। कृपया ध्यान से पढ़ें।

RBI का फरमान Loan Rules

Loan Rules
Loan Rules

RBI के द्वारा बैंक अथवा फाइनेंस कम्पनी को नई गाइडलाइन जरी कर दी है जो की लोंन लेने के लिए नए Loan Rules जारी किए गए हैं। नई गाइडलाइन जारी कर दी गई है। रिज़र्व बैंक ने अपने आदेश में कहा है कि वित्तीय संसथान इन सभी गाइडलाइन्स को जल्द से जल्द लागू करे। मतलब ये की लोन देने वाले बैंक अथवा कोई भी फाइनेन्स कंपनी जिसको ये सभी गाइडलाइन्स माननी होंगी।

नए Loan Rules इस तारीख से लागू

RBI ने सभी बैंको और एनबीएफसी यानी फाइनैंस कंपनियों को 1 अक्टूबर से रिटेल और एमएसएमई टर्म लोन लेने के लिए कर्ज लेने वालों को सभी तरह की सभी जानकारियां उपलब्ध कराने के लिए कहा है। इसमें लोन की ब्याज दर और दूसरी सभी को शर्तो समेत सभी डॉक्यूमेंट के बारे में जानकारी कस्टमर को दे देनी होगी।

Apple 16 good News : 7 कलर ऑप्शन के साथ लॉन्च होगा iPhone 16 प्लस! अभी अभी लेटेस्ट खबर आई !

आसान भाषा में Loan Rules बनाया जाये

RBI ने गाइडलाइन जारी करते हुए कहा कि कर्ज लेने के लिए केएफएस पर गाइडलाइंस को तर्कसंगत बनाया जाए। जिससे की लोन लेने वाला आसान भाषा में समझ सके। ये इस तरीके से बनाया जाए तथा कहा कि लोन लेने वालों को एक स्टैन्डर्ड फॉर्मेट दिया जाए ! फिलहाल खास तौर पर कमर्शियल बैंक की तरफ से दिए गए Personal Loan आरबीआई के दायरे में आने वाली यूनिट्स के डिजिटल लोन और छोटी रकम लोन के बारे में ये नियम जरी किये गये है ।

ट्रांस्पेरेसी बढाई जाए

RBI ने आगे कहा कि समझौते के बारे में सभी जानकारियां कस्टमर को दी जाए । आरबीआई ने कहा कि आरबीआई के दायरे में आने वाले सभी वित्तीय संसाधन और प्रोडक्ट्स को लेकर ट्रांसपरेंसी बढ़ाई जाए। सूचना की कमी को दूर करने के लिए भी कहा गया ! इससे लोन लेने वाले सोच समझकर फैसला कर सकेंगे। फैसला कर पाएगा कि क्या उसे लोन लेना है या नहीं लेना है ! आरबीआई के द्वारा ये नई गाइडलाइंस जारी कर दी गई है जो कि 1 अक्टूबर से लागू हो जाएंगी। सभी वित्तीय संस्थानों जैसे बैंक और फाइनैंस कंपनी को साफ तौर पर गाइडलाइन्स यानी हिदायत जारी कर दी गई है।

Join Our Telegram Group : Click Here

You may also like...